loading...
Get Indian Girls For Sex
   

bhateeja

बहु तो बुआ को अपने शिकंजे में फांस चुकी है, और बुआ भी अपनी चूत गीली कर चुकी है. अब देखते है किशन का परिवार और क्या गुल खिलाता है इन family hindi sex stories में..

Hindi Sex Story के अन्य भाग-

पार्ट 1

पार्ट 2


सुजाता की चूत हीना की बात सुन कर गीली हो जाती है और वह अपनी चुस्त सलवार पहने पिछे की ओर दीवार से टिक कर अपने दोनो पेरो के घुटनो को मोड हुए बैठी रहती है उसकी जाँघो की जड़ो मे जहाँ उसकी फूली हुई चूत का उभार उसकी सलवार से साफ नज़र आ रहा था वह हिस्सा पूरा गीला हो चुका था और हीना की नज़र जैसे ही बुआ की फूली हुई सलवार पर पड़ी तो हीना ने एक दम से बुआ की बुर को उसकी सलवार के उपर से दबोच लिया..

 

बुआ- एक दम से अपनी जाँघो को मिलाते हुए, हाय दैया बहू क्या कर रही है पागल हो गई है क्या,

 

हीना- बुआ जी आपने सलवार के अंदर पॅंटी नही पहनी है ना,

 

बुआ- हाँ बहू तभी तो मेरी सलवार वहाँ से गीली हो गई,

 

हीना- बुआ की फूली हुई चूत को दबाती हुई बुआ तुम जानती हो दीपक को तुम्हारी उमर की औरतो की फूली हुई चूत बहुत अच्छी लगती है, और तुम्हारी चूत को देखो यह इतनी गुदाज पाव रोटी की तरह फुल्ली है कि सच बुआ दीपक अगर इस समय तुम्हारी इस फुल्ली बुर को देख ले तो अपना मोटा लंड एक धक्के मे ही तुम्हारी बच्चेदनि से भिड़ा दे,

 

 

हीना की बातो से बुआ की चूत से और भी पानी आने लगता है, हीना बुआ की चूत को सहलाते हुए जब अपनी उंगली उसकी बुर के उपर हल्के से दबाती है तो अचानक बुआ की सलवार की सिलाई वहाँ से उधाड़ जाती है जहाँ पर उसकी मस्त चूत फूली हुई नज़र आ रही थी,

 

 

हीना बहुत खुराफाती तो थी ही उसने जब देखा कि बुआ की सलवार थोड़ी सी उसकी चूत के यहाँ से फटी है तो हीना ने बुआ से चिपकते हुए कहा बुआ तुम्हारी चूत का साइज़ बराबर दीपक के लंड के लायक है और फिर हीना धीरे से बुआ की सलवार की सिलाई को और भी उधेड़ देती है, तभी हीना अपनी एक उंगली बुआ की मस्त बुर के गुलाबी छेद मे एक दम से पेल देती है और बुआ आह हीना क्या कर रही है, बुआ हीना के उंगली डालने से मस्त हो जाती है और हीना आराम से बुआ की दोनो जाँघो को फैला कर उसकी सलवार उसकी चूत के पास से अच्छे से फाड़ कर ऐसी कर देती है की बुआ की पूरी खुली हुई गुलाबी चूत और उसका छेद साफ नज़र आ रहा था,

 

 

हीना बुआ की चूत मे अपनी तीन उंगलिया डाल कर आगे पिच्चे करती हुई बोलो ना बुआ कैसा लग रहा है

बुआ- बहुत अच्छा लग रहा है बेटी आह सी आह हीना- बुआ दीपक का मोटा लंड चुसोगी,

 

बुआ- आह पर कैसे बेटी वह क्या चूसने देगा

हीना- तुम एक बार हाँ तो कहो बुआ उसे तो तुम्हे चोदना भी पड़ेगा और जब वह तुम्हे नंगी करके चोदेगा

तब देखना तुम्हे पूरी मस्त कर देगा,

 

बुआ- लेकिन कैसे बेटी

 

हीना बुआ की चूत से अपनी उंगली निकाल कर उसे कान मे कुछ समझाती है

 

बुआ- नही हीना कही दीपक कुछ ग़लत समझ लेगा तो

 

हीना- अरे भाई जब मैं खुद आपके साथ हू तो आप फिकर क्यो कर रही हो उसके बाद हीना बाहर चली जाती है और सुजाता वही दीवार से पीठ लगाए अपने दोनो पेरो को लंबा करके एक के उपर एक टांग रख कर बैठी रहती है ,


Indian Desi Kahani


हीना बाहर जाकर देखती है तो उसकी सास और रिया कही जाने के लिए तैयार थी हीना ने पुछा तो रौशनी

ने कहा बेटा मेरा भाई बहुत दिनो बाद आ रहा है इसलिए हम उसे स्टेशन लेने जा रहे है तुम लोग खाना खा

लेना हमे थोड़ी देर हो जाएगी,

 

 

उनके जाने के बाद हीना दीपक के पास आकर चलो कमरे मे आज तुम्हे बुआ की चूत का मज़ा दिल्वाति हू बस डरना मत और हिम्मत करके आज बुआ को चोदना है मोका बड़ा अच्छा है मैं बाहर का गेट लगा कर आती हू

 

दीपक अपने रूम मे आकर बुआ के पेरो की तरफ बैठने लगता है और बुआ एक दम से अपने पेर सिकोड कर अपने पेरो के दोनो घुटने मोड़ लेती है वह जैसे ही घुटने मोड़ती है उसकी फूली हुई चूत एक दम से खुल कर उसकी फटी सलवार से साफ दिखने लगती है और दीपक अपनी बुआ की मस्तानी चूत को अपने इतने करीब से देख कर एक दम से मस्त हो जाता है,

 

 

बुआ जब दीपक के चेहरे की तरफ देखती है तो वह समझ जाती है कि दीपक ने उसका मस्त भोसड़ा देख लिया है,

 

बुआ- किसी जनम्जात रंडी की तरह मुस्कुरा कर क्या हुआ दीपक मम्मी कहाँ गई

 

दीपक- बुआ वो मेरे मामा है ना चंदू वह आ रहे है इसलिए मम्मी उन्ही को लेने गई है बुआ- मैने सुना है तेरे मामा से तेरी बहुत बनती है,

 

हीना- चाइ देते हुए अरे बुआ जी वो क्या है ना दीपक के मामा दीपक से 7 साल बड़े है पर कुछ बाते इन दोनो की इतनी मिलती है कि यह साथ रहते-रहते दोस्त की तरह बन गये अब इन्हे देखिए ये अपने मामा से अपनी सभी बाते शेर कर लेते है और इनके मामा भी इन्हे हर बात बता देते है,

gharelu randiyan family hindi sex stories

 

बुआ- हस्ते हुए बहू कुछ बाते ऐसी भी होती है जो कोई किसी को नही बताता है,

 

हीना- हस्ते हुए बुआ जी हम भी तो नही जानते थे कि आप पापा से इतना प्यार करती है,

 

बुआ- मुझसे तेरे पापा ही नही तेरा पति भी बहुत प्यार करता है, क्यो दीपक

 

दीपक- बुआ मेरी तो दो-दो मम्मी है एक मम्मी और दूसरी आप

 

 

हीना- हस्ते हुए, दीपक पापा की भी तो दो-दो बिबिया है,

 

बुआ-मुस्कुराते हुए तुम दोनो बहुत बदमाश हो अपनी बुआ के मज़े ले रहे हो

 

हीना- अरे नही बुआ हम आपके मज़े नही ले रहे है बल्कि हम दोनो तो आपके बच्चे है और आपको पूरा

मज़ा देना चाहते है क्यो दीपक चलो बुआ को तुम अपनी मम्मी समझते हो ना तो उनके पेरो को थोडा दबाओ जैसे अपनी मम्मी के पेरो को दबाते हो और फिर हीना भी बुआ की एक टांग पकड़ कर दबाने लगती है,

 

बुआ- अरे नही बेटा रहने दे

 

दीपक- अरे तो क्या हुआ बुआ आप मेरी मम्मी समान है तो क्या मैं आपके पैर नही दबा सकता और फिर एक तरफ हीना और दूसरी और दीपक बुआ की एक-एक टांग पकड़ कर उसे फोल्ड करके दबाने लगते है,

 

दीपक की नज़रे बुआ की मस्त फूली हुई चूत पर थी जो फटी सलवार से पूरी तरह बाहर आ चुकी थी, हीना बुआ की मोटी जाँघो को मसल्ते हुए उसके पैरो को और चौड़ा कर रही थी और बुआ अपनी आँखे बंद किए मंद-मंद मुस्कुरा रही थी,

 

दीपक ने बुआ की मोटी और गुदाज जाँघो को अपने हाथो मे भर रखा था और बुआ की पाव रोटी की तरह फूली हुई चूत देख कर सोच रहा था कि उसकी मम्मी रौशनी की चूत कैसी होगी, रौशनी का नंगा बदन भी पूरा बुआ के नंगे बदन की तरह ही है तब तो मम्मी की बुर भी इसी तरह फूली हुई होना चाहिए,

किशन इस उम्र में भी एक नंबर का चुदक्कड़ था और जवान चूतों का दीवाना था. मज़े की बात ये कि उसके घर में भी कुछ ऐसा ही माहौल था. एक शानदार family hindi sex story पढ़िए..


किशन अपनी कार से नीचे उतरता है और सामने की बिल्डिंग मे जाकर सीधे लिफ्ट के अंदर पहुच कर 4 दबाता है और कुछ देर मे लिफ्ट 4th माले पर पहुच जाती है, सामने एक बंदा बैठा हुआ तंबाखू रगड़ रहा था और किशन को देखते ही जल्दी से खड़ा होकर सलाम करता है,

 

किशन-सेठ जी अंदर है,

 

जी साहेब अंदर ही है, किशन सीधे दरवाजा खोल कर अंदर दाखिल होते हुए अरे क्या यार नरेश तू यहा ऑफीस मे घुसा है और मैं दो दिन से ठीक से सो नही पा रहा हू,

 

 

नरेश- अरे बैठो किशन तुम तो हमेशा ही जल्दी मे रहते हो जब कि हमारा काम है बिल्डिंग बनवाना और वह

काम तो आराम से ही होता है,

 

किशन- अरे मैं वह नही कह रहा हू जो तुम समझ रहे हो

 

नरेश- मुस्कुराते हुए, अरे मेरे दोस्त मैं सब समझ रहा हू और मैने तेरा काम भी कर दिया है, अब कुछ देर

तो अपने लंड को संभाल कर रख, अब मैं तेरे लिए रोज-रोज तो 17-18 साल की कुँवारी लोंड़िया चोदने के लिए नही ला सकता हू ना, फिर भी जुगाड़ करके एक मस्त माल का अरेंज किया है और फिर नरेश बेल बजा कर चपरासी को बुलाता है,

 

किशन- कही तूने उसे पहले ही चोद तो नही दिया

 

नरेश- अरे नही बाबा वह तो मैने तेरे लिए ही बचा कर रखा है, तेरा काम हो गया है अब ज़रा धंधे की बात

कर ले,

 

 

किशन- बोल क्या करना है

 

नरेश- मेरी तो एक ही इच्छा है और वह काम बस तू ही करवा सकता है

 

 

किशन-हाँ तो बोल ना

 

नरेश- वो जो तेरा दोस्त मेहता है उसकी एक नई सड़क पर जो ज़मीन है वह कैसे भी मुझे दिलवा दे फिर देख उस ज़मीन से मैं कहाँ से कहाँ पहुच जाउन्गा,

 

किशन- अबे सपने देखना छ्चोड़ दे मेहता उस ज़मीन को किसी कीमत पर नही बेचेगा

 

नरेश-बेचेगा वह ज़रूर बेचेगा अगर एक बार तू उससे कह दे, मैं जानता हू वह तेरी बात कभी नही टालेगा क्यो कि उसके उपर तूने एक ही इतना बड़ा एहसान कर रखा है कि वह जिंदगी भर तुझे अपना खुदा मानता रहेगा,

 

 

 

किशन- लेकिन नरेश मैं इतना ख़ुदग़र्ज़ नही कि उस पर किए एहसान की कीमत मांगू, सॉरी दोस्त कोई और बात होती तो मैं तेरे लिए कभी मना नही करता पर इस बात के लिए तू मुझे माफ़ कर दे,

 

तभी कॅबिन के अंदर एक 25 साल की मस्त खूबसूरत लोंड़िया आती है उसने एक स्कर्ट जो उसके घुटनो तक था और उपर एक शर्ट पहन रखा था उसके दूध इतने बड़े और मोटे थे कि किशन का तो लंड खड़ा हो गया और जब वह लोंड़िया थोड़ा आगे जाकर पलटी तो उसकी मोटी कसी गांड देख कर किशन ने टेबल के नीचे अपना हाथ लेजा कर अपने लंड को सहलाते हुए उसकी गुदाज गांड देखना शुरू कर दी,

 

 

नरेश- अरे पारुल ज़रा जीवन को फोन लगा कर मेरी बात कर्वाओ

 

पारुल- जी सर

 

ओर फिर पारुल ने जीवन को फोन लगा कर नरेश को दिया नरेश ने फोन लेकर पारुल से कहा ज़रा चपरासी को बोल कर दो कॉफी का बंदोबस्त कर दो,

 

पारुल को जाते हुए किशन पीछे मूड कर देखने लगा और उसके भारी फैले हुए चुतडो को बड़ी गौर से

देख-देख कर अपना लंड मसल रहा था,

 

 

नरेश- ओये बस कर और इधर देख

 

किशन- वाह नरेश क्या माल है साले कितनी मस्त लोंड़िया को तूने अपनी पीए बना रखी है,

 

 

नरेश- बहुत मस्त है क्या

 

किशन- खुदा कसम एक बार तू तो इसकी दिलवा दे साली को रात भर पूरी नंगी करके चोदुन्गा,

 

नरेश- हेलो जीवन शाम को उस लोंड़िया को साथ लेकर मेरे फार्महाउस पर आ जाना

 

नरेश- ले तेरा काम हो गया है और अब शाम को वह अपने ठिकाने पर आ जाएगी,

 

किशन- अरे नरेश उसको छ्चोड़ तू तो तेरी इस पीए को एक बार मेरी बाँहो मे भेज दे कसम से कितनी मस्त चुचिया और गांड है उसकी,

 

नरेश- अबे साले वह मेरी बेटी पारुल है और उसने MBA कर लिया है इसलिए उसे अपने साथ ही बिजनेस मे लगा लिया है अब मेरे सारे काम को धीरे-धीरे वह संभाल रही है,

 

किशन का मूह एक दम से सुख गया उससे कुछ बोलते नही बन रहा था पर फिर वह नरेश को देख कर

मुस्कुराते हुए अपने कान पकड़ कर सॉरी यार मुझे ज़रा भी नही मालूम था कि वह तेरी बेटी है,

 

नरेश- मुस्कुराते हुए इसीलिए तो मैने तेरी बात का बुरा नही माना तभी उनकी कॉफी आ जाती है और किशन और नरेश चुस्किया लेने लगते है, किशन का लंड अभी तक खड़ा हुआ था तभी पारुल एक बार फिर से अंदर आती है

 

और कुछ फिलो को उठा कर वापस जाने लगती है तभी

 

नरेश-सुनो बेटी

 

पारुल- जी पापा

 

नरेश- ये मेरे खास दोस्त है किशन और किशन यह मेरी एक्लोति बेटी पारुल है

 

पारुल- नमस्ते अंकल

 

किशन नमस्ते बेटा

 

पारुल की नशीली नज़रो और गुलाबी रस से भरे होंठो को देख कर किशन का लंड फिर से उसकी पेंट मे तन चुका था, किशन फिर से पारुल के हुस्न मे खोने वाला था तभी नरेश ने कहा अच्छा पारुल बेटी तुम जाओ

मुझे ज़रा किशन से कुछ बाते करनी है और फिर पारुल वहाँ से चली जाती है,

 

 

 

किशन- यार एक बात बता नरेश तेरी बेटी की उम्र करीब 25 साल तो होगी और तेरी उम्र को देख कर लगता नही है कि तेरी कोई 25 बरस की बेटी होगी,

 

नरेश- क्यो भाई मैं भी तो 50 टच करने वाला हू और तू भी साले बुढ्ढा होने की कगार पर ही है

 

किशन- हाँ हाँ ठीक है लेकिन तुझसे तो दो साल अभी छ्होटा ही हू, पर नरेश पहले कभी तेरी बेटी को यहाँ देखा नही,

 


Indian Sexy Kahani


 

नरेश- मुस्कुराते हुए लगता है तुझे मेरी बेटी बहुत पसंद आई है,

 

किशन- मुस्कुराते हुए नही यार वह बात नही है,

 

नरेश-अच्छा सुन शाम को समय से आ जाना फिर बाकी बाते मेरे फार्महाउस पर ही करेगे,

 

किशन-अच्छा ठीक है और फिर किशन वहाँ से उठ कर चल देता है

 

किशन की कार मार्केट के ट्रॅफिक से धीरे-धीरे गुजर रही थी, तभी थोडा आगे नरेश को दो मस्त लोंड़िया स्कर्ट और वाइट शर्ट पहने रोड से अपने भारी भरकम चूतड़ मतकते हुए जाते दिखी,

 

 

किशन ने जब गाड़ी थोड़ा करीब लाकर उन्हे देखा तभी एक लड़की पास के सब्जी के ठेले पर रुक कर अपनी गांड खुजलाते हुए सब्जियो के भाव पूछने लगी, किशन का लंड उसकी मोटी गांड को देख कर खड़ा हो गया और जब वह उसके बिल्कुल पास से गुजरा तो उसके होश उड़ गये वह लड़की कोई और नही बल्कि उसकी अपनी बेटी रिया थी,

 

रिया 18 साल की मस्त भरे बदन की लोंड़िया थी,

हम बुआ-भतीजे का रिश्ता अब बदल चूका था, सब बदल चूका था। अब मेरे पति आ रहे , अब क्या होगा? इस Porn Hindi Story का आखिरी धमाकेदार भाग..

Hindi Sex Story के अन्य भाग-

पार्ट 1

पार्ट 2


फिर रात भर हम दोनों नंगे ही एक साथ सोये।

सुबह मेरे पति रमन ने मुझे फोन किया और कहा कि वह शाम तक आ रहे हैं। मैं जल्दी उठी और फ्रेश होकर घर की साफ सफाई में लग गयी।

उसके बाद मैं गौरव को उठाने गयी तो देखा कि वह नंगे ही सो रहा है और उसका लंड तनकर खडा़ था। मैं बिना कुछ सोचे उसका लंड चूसने लगी। अब मुझे लंड चूसने में मजा आने लगा था। लंड चूसते समय ही वह उठ गया और मेरा सिर पकड़ कर हिलाने लगा। थोडी़ ही देर में वह मेरे मुँह में ही झड़ गया। मैं भी उसका सारा वीर्य पी गयी। अब मुझे वीर्य पीना अच्छा लगने लगा था।

 

मैंनें उसे बताया कि उसके फुफा शाम तक आ जाएँगे इसीलिए ठीक से व्यवहार करे। शाम तक मैं सारा काम खत्म कर खाना खाकर चाय पी रही थी। गौरव अपना क्लास करने गया था।

 

मेरे पति आ गये। टुर के बारे में पूछ कर उन्हें तौलिया देकर मैं रात का खाना बनाने चली गयी। खाना बनाकर मैं अपने कमरे में गयी तो देखा कि मेरे पति फ्रेश होकर अखबार पढ़ रहे थे। मुझे उन्होंने आलिंगन में भरा और चूमने लगे। मैंने उन्हें छोड़ने को कहा और बोली कि गौरव कभी भी आ जाएगा, रात को करेंगे।

 

फिर हम लोग टीवी देखने लीभिंग रुम में आ गये। लगभग नौ बजे गौरव भी आ गया। उसके फ्रेश होते ही मैंने खाना लगाया और खा पीकर हमलोग सोने चले गये। कमरे में आने पर मैंने कपडे़ बदलकर नाइट गाउन पहना और पति के पास आकर लेट गयी।

 

मैंने अपने पति को थोडा़ परेशान देखा और परेशानी की वजह पूछी। उन्होंने मुझे औफिस के काम का हवाला दिया। मैंने कहा “यह औफिस के काम की वजह से आप परेशान नहीं हैं कुछ और ही वजह है। मैं आपको इतने सालों से जानती हूँ। जरुर आप कुछ छुपा रहे हैं। बताईये मुझे क्या बात है”।

 

इस तरह मैंने उन्हें बहुत बोला तब उन्होंने कहा कि अगर तुम गुस्सा न हो तो ही मैं कुछ कहुँगा।

 

मैंने कहा कि मैं गुस्सा नहीं होंगी।

 

तब उन्होंने कहा “रितु तुम्हे मालुम है कि मैं ब्लू फिल्म नहीं देखता, पर इस बार टुर में जब मैं इंग्लैंड में था मुझे मेरे कलीग ने एक ब्लू फिल्म दिखाई। उसमें दो आदमी और एक औरत होती है। एक आदमी अधेड़ है और औरत उसकी पत्नी होती है। दुसरा आदमी बहुत ही कम उम्र का होता है लगभग उनके बेटे के उम्र का। अधेड़ आदमी अपनी नीरस सेक्स लाइफ में कुछ नया करना चाहता है। इसीलिए अपनी पत्नी और उस लड़के को अपने सामने सेक्स करने के लिए मनाता है। दोनों उसके कहने पर सेक्स करते हैं और फिर उनका सेक्स लाइफ अच्छा चलने लगता है।”

यह कहते हुए मेरे पति ने एक विडियो अपने लैपटाॅप पर चलाया। उसमें एक लड़का और औरत सेक्स कर रहे थे, अधेड़ आदमी बगल में बैठकर उन्हें देख रहा होता है। लड़का उस महिला का चुंबन लेता है और धीरे धीरे महिला को नंगा करता है। फिर लड़का महिला को चुमते हुए उसके चुचियों को चुसने लगता है। थोडी़ देर चुसने के बाद वह नीचे बढ़ता है और उसकी नाभि को चुमता है और नीचे जाते हुए चूत चाटने लगता है। महिला अपने आपे से बाहर हो जाती है और लड़के को अपना चूत चाटने को उकसाती है। थोडी़ देर चूत चाटने के बाद महिला लड़के को नंगा करती है और उसका लंड देखकर आश्चर्य करती है। लड़का उसे अपना लंड चूसने को कहता है। महिला उसका लंड चूसने लगती है। वह उसका पूरा लंड मुँह में नहीं ले पाती है क्योंकि वह सामान्य से बडा़ होता है। फिर भी महिला कोशिश करती है और खाँसने लगती है।

 

फिर वह लड़का महिला को बिस्तर पर लिटाता है और अपना लंड उसके चूत में डालने लगता है पर एक बार में लंड चूत में नहीं जाता है। फिर दुसरी बार धक्का लगाने पर लंड सरसराकर चूत में चला जाता है। महिला चित्कार उठती है और थोडा़ रुककर धक्का लगाने को बोलती है। लड़का पहले तो धीरे धीरे फिर तेजी से धक्का लगाते हुए झड़ जाता है।

bhateeje ki shart Porn Hindi Story

बुआ की चूत में प्रवेश

फिर अधेड़ आदमी वीर्य से भरे महिला के चूत को चाटता है और वह भी चुदाई करता है।

 

पूरा विडियो देखकर मैं भी गर्म हो जाती हूँ और पति को चूमने लगती हूँ। मेरे पति मेरा नाइटगाउन उतार फेंकते हैं और मेरी चिकनी चूत को देखकर हाथों से सहलाने लगते हैं। वह मेरी चूत के बारे में पूछते हैं तो मैं उन्हें कहती हूँ कि यह आपके लिए है।

 

मेरे पति मुझे चोदना शुरु करते हैं और कुछ ही क्षण में झड़ जाते हैं। मैं युँ ही रह जाती हूँ। हमदोनों बिस्तर पर पडे़ होते हैं। मेरे पति मुझसे पूछते हैं कि तुम्हारा क्या विचार है।

 

“किस बारे में”

 

“यही कि क्या हम भी किसी तिसरे को अपने बेडरुम में जगह दे सकते हैं। अगर तुम राजी हो तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है।” मैं उनकी बात सुनकर बिना कोई जवाब दिए करवट बदलकर सो जाती हूँ। वह भी सो जाते हैं।

 

अगले दिन उठकर मैं फ्रेश होकर किचन का काम निपटाती हूँ। मेरे पति भी फ्रेश होकर औफिस जाते समय नाश्ता कर निकल जाते हैं। मेरी अपने पति से कोई बात नहीं होती। गौरव भी अपने क्लास के लिए नाश्ता कर निकल जाता है।

 

अब मैं अकेली सोचतीं हूँ कि पति की बात मानी जाए कि नहीं। मन तो था कि मान जाती हूँ और गौरव को शामिल कर लेती हूँ, पर कुछ सोच कर रुक जाती हूँ। यूँ ही सोचते सोचते दिन निकल जाता है।

 

फिर रात को बेडपर जाने के बाद मेरे पति फिर से वही बात पूछते हैं। मैं शांत ही रहती हूँ।

 

फिर पति के बार बार कहने पर मैं बोली “अगर मैं आपकी बात मान भी लुँ तो क्या भरोसा कि अगला इस बात को राज ही रखेगा”।

 

तब रमन(मेरे पति) ने कहा “अगर तुम राजी हो तो हम कोई ऐसे आदमी को ही शामिल करेंगे जो कोई भी बात किसी को ना कहे।”

 

“कौन है वह आदमी? तुम्हारा कोई दोस्त”

 

“नहीं! कोई ऐसा जो हमारे राज को राज रखे। जो बहुत ही नजदीकी हो।”

 

“ऐसा कौन है नजदीकी व्यक्ति”

 

कुछ देर सोचने के बाद मेरे पति ने कहा “गौरव के बारे में तुम्हारा क्या खयाल है।”


Desi Kahani


गौरव का नाम सुनकर एक बार तो मैं खुश हो गयी क्योंकि गौरव के साथ तो मेरा संबंध आगे बढ़ने के बावजूद मैं उससे अभी तक चुदी नहीं थी। मैंने अपनी खुशी दबाते हुए कहा “यह आप क्या कह रहे हैं? गौरव मेरा भतिजा है और फिर वह मानव से थोडा़ ही तो बडा़ है।”

 

“गौरव इसलिए क्योंकि हम उस पर विश्वास कर सकते हैं कि वह हमारी बातों को राज रखेगा। फिर उम्र तो कोई मायने नहीं रखता है।”

 

“ठीक है पर क्या आप उससे जाकर कहेंगें कि आओ और अपनी बुआ को चोदो। क्या यह ठीक रहेगा?”

यह sex story एक ऐसी औरत की है जो सती सावित्री थी, परंतु उसके भतीजे की एक जिद्द ने उसे कुछ और ही बना दिया। यह hindi porn stori उसी की जुबानी।

Hindi Sex Story के अन्य भाग-

पार्ट 1

पार्ट 2


मेरा नाम रितु है। मेरी उम्र 39 साल है। मेरे पति रमन एक मल्टीनेशनल कंपनी में बडे़ अधिकरी हैं। मेरा बेटा मानव अभी 18 साल का है और बंगलौर में इंजीनियरिंग कर रहा है। मैं अपने पति के साथ मुंबई में रहती हुँ। हमारे साथ मेरे भाई का बेटा गौरव भी रहता है जो कोई कंप्यूटर कोर्स कर रहा है। उसकी उम्र तेईस साल है।

 

एक दिन टीवी पर योग का कोई प्रोग्राम दिखाया जा रहा था जिसमें गोमुत्र के बारे में बताया जा रहा था। चूँकि मेरे पति औफिस गये हुए थे इसीलिए मैं और गौरव घर पर समय बिताने के लिए टीवी देख रहे थे।

 

उस प्रोग्राम को देखते हुए मैंने कहा “कोई कैसे गोमुत्र पी सकता है। यह तो बहुत ही गंदा होता है।”

 

तभी गौरव ने कहा”बुआ उसे मशीन से साफ करके पीने लायक बनाया जाता है। तब उसे पीते हैं।”

 

मेरा भतीजा कभी कभी मुझसे चुहलबाजी भी करता है और मैं उसका मजा लेती हुँ।

 

मैंने बात बढा़ते हुए कहा”तभी तो कोई किसी का मुत्र ऐसे कैसे कोई पीये।”

 

तभी गौरव ने कहा”कोई किसी का क्या मतलब । युँ तो दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं। आपने लोगो को लोगों का न पीने का तो सुना ही होगा तो मूत पीना कौन सी बडी़ बात है।”

 

मैने कहा”दुसरों की छोड़ तु बता। बडी़ डींग हाँकता है। तु कर सकता है क्या।”

 

मेरी डींग हाँकने वाली बात पर वह उत्तेजित होते हुए बोला”इसमें कौन सी बडी़ बात है, जरुर करके दिखा सकता हुँ।”

 

“लगी शर्त तु नहीं कर पाएगा।”

 

“करुँगा जरुर,लगी शर्त।”

 

“परंतु अपनी नहीं किसी और की। समझे। मेरे सामने पीनी होगी। अगर मर्द हो तो इनकार मत करना।”ऐसा कहकर मैं हँसने लगी।

 

फिर उसने मेरी शर्त मानते हुए बोला “बुआ यहाँ कोई और तो है नहीं, मैं तुम्हारी मूत ही पियुँगा वह भी सीधे बिना कोई अन्य चीज के।”

 

अब मैं शर्मिंदा हो ग़ई। मैने उसे यह बात भुलने को कहा। परंतु उसने कहा”न करना हो तो ठीक ही है। सभी औरतें अपने बात से मुकरती ही हैं।”

 

अब मैने ताव में उसकी बात मानी पर यह काम अभी न करने को कहा।

 

तब गौरव ने कहा कि अगर वह यह काम कर लेगा तो मुझे उसकी एक बात माननी होगी।झिझकते हुए मैनें उसकी बात मानी और कहा”परंतु ये बातें किसी को पता नहीं लगनी चाहिए।”

 

उसके बाद मैं अपने घर के काम में लग गयी। मेरे पति शाम को घर आए तब तक गौरव से कोई विशेष बात नहीं हुई।

दो दिनों के बाद मेरे पति ने औफिस जाने के बाद फोन कर कहा कि उन्हें 10 दिनों के लिए काम से यूरोप टुर पर जाना है, इसलिए उनका सामान तैयार कर दूँ। मैंने उनका सामान तैयार कर पैक कर दिया। रमन शाम को आए और सो गये। उनकी फ्लाइट सुबह 4बजे की थी। सुबह उनके जाने के बाद मैं थोडी़ देर सोयी।

 

फिर सुबह के कामकाज समाप्त होने के बाद मैं टीवी पर सीरियल देख रही थी,उसी समय गौरव आया और पूछा “बुआ फुफा तो विदेश गये हैं कब तक आएँगें।”

 

मैने कहा कि दस दिनों में आएँगे। तभी मैं बाथरुम जाने को उठी तब उसने पूछा “बुआ आप मुझसे गुस्सा तो नहीं हो क्योंकि उस दिन के बाद से आपने मुझसे विशेष बात भी नहीं की और थोडा़ दुर रहने लगी हो”। मैंने कहा “ऐसी कोई बात नहीं है”।

 

“बुआ अगर बुरा न लगे तो उस दिन की शर्त याद है न।”

bhateeje ki shart hindi porn stori

बुआ की चूत का स्वाद

“बुरा मानने वाली कोई बात तो नहीं है। फिर बात तो मैंने ही शुरु की थी। मैंने मजाक किया था।” मैंने बात टालने के मूड में कहा।

 

परंतु वह आज बात टालना नहीं चाहता था। उसने फिर कहा “बुआ तो फिर आज देख ही लो मैं मर्द हुँ या नहीं। तुम भी अपनी जुबान से मत फिरना। मैं यह बात किसी को नहीं बताऊँगा।”

 

मुझे बडी़ कोफ्त होने लगी कि मैंने एक साधारण बात को कहाँ से कहाँ ला दिया।

 

आखिर झिझकते हुए मैंने कहा “पर मैं तुम्हारे आँख पर पट्टी बाँधुंगी और इस बात पर आगे कोई बात नहीं होगी, समझे।” मैं अपने कमरे में कोई कपडा़ लाने गयी।

 

उसने हाँ कहा और वहीं बैठा रहा। कमरे से आकर मैंने उसे अपने कपडे़ खोलकर बाथरुम में जाने को कहा। बाथरुम में जब मैं गयी तो वह तौलिया लपेट कर खडा़ था। मैंने उसके आँखों पर मोटी पट्टी बाँधी जिससे उसे कुछ दिखाई न दे। फिर सहारा देकर मैंने उसके सिर को नीचे किया। उस समय मैं साडी़ पहने हुए थी। अब मुझे भी सिहरन हो रही थी। फिर मैं उसके सिर पर अपनी चुत को उसके मुँह के पास रखकर पिशाब करने लगी। उत्तेजनावश पिशाब की एक मोटी धार उसके मुँह में गिरी और मैं पिशाब करने के बाद उठी। उसे देखा तो मैं आश्चर्यचकित हो गयी। उसने मेरा पूरा मूत पी लिया था। मैंने बिना कुछ कहे उसके आँखों की पट्टी खोली और उसे नहाने को बोलकर बाररुम से बाहर आ गयी।

 

बाहर आकर मैं अपने दुसरे कामों में व्यस्त हो गयी। गौरव से नजरें मिलाने की हिम्मत नहीं हो रही थी। खैर किसी तरह दो दिन बित गये।

 

इन दो दिनों में जब भी वह बात याद आती मेरी चूत गीली हो जाती थी।

 

तिसरे दिन मेरे टीवी देखते समय गौरव मेरे पास आया। वह बोला “बुआ जो हुआ सो हुआ। मैं यह बात किसी को नहीं बताऊँगा और यह बात सताने वाली है भी नहीं कि मैंने आपका मूत पिया है।”

 

मैंने भी कहा कि यह बात किसी हालत में कोई न जाने क्योंकि इससे मेरी बदनामी होगी।


Indian Sex Stories


“बुआ ऐसे देखा आपने मैंने असंभव वाला काम कर दिया। मूत पीने समय तो बहुत ही खारा लगा पर मैं किसी तरह पी ही गया। आपके बाथरुम से निकलने के बाद थोडी़ उबकाई हुई पर सब ठीक हो गया। वैसे मेरी शर्त तो याद है ना।”

 

“हाँ याद है, बोलो क्या करना है।” मैनें थोडे़ कडे़ लहजे में उससे पूछा।

 

“रहने दीजिए बुआ आप नहीं कर पाएँगी।”

 

“ऐसा कौन सा काम है जो मैं नहीं कर पाउँगी।”

 

“आप मुझसे नाराज हो जाएँगी। और फिर आप से नहीं हो पाएगा।”

 

“अगर तुम वह वाली बात किसी को न बताओ तो मैं नाराज नहीं होउँगी और तुम जो कहोगे मैं करुँगी।”

 

“मैं किसी को कुछ नहीं कहुँगा, लेकिन आप कर नहीं पाएँगीं।”

 

“ऐसा क्या है जो मैं नहीं कर पाऊँगी।”

 

“बुआ वो…वो…।”

 

“क्या वो… बोलकर देखो, मैं कुछ भी कर सकती हुँ।”

 

“मैं चाहता हूँ कि…।”

 

“क्या चाहते हो? मुझे कमजोर मत समझो। मैं तुम्हें कुछ भी करके दिखा सकती हूँ।”

 

“बुआ, मैं आपके चूत के दर्शन करना चाहता हूँ और उसे जीभर के चूमना चाहता हूँ। उसकी गंध अभी भी मुझे बेचैन कर रही है।”

 

अब मैं चौंक उठी।

 

मैं कुछ बोलती इससे पहले ही गौरव ने कहा “बुआ आपने पहले ही कहा है आप नाराज नहीं होंगीं और आप कुछ भी कर सकती हैं। अगर नहीं करना चाहती हैं तो कोई बात नहीं। मुझे पहले ही मालुम था कि आपसे नहीं होगा।पर आप नाराज ना हों।”

loading...

Related Post & Pages

जब पहली बार सील तोड़ी loading... प्रेषक : संजीव … हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम संजीव है और में एक बार फिर से आप सभी कामुकता डॉ...
Soaking twat of Japanese cutie Rui Haduki needs some good missionary Wondrous chestnut haired Japanese cutie looks shy while sitting next to the dude. But everything cha...
Full HD Porn - Train Ticket To Heaven – Petite Tight Japanese Suzumiya... Flag This Post Post has been sucessfully flagged Thank you for your input, your flag is being review...
Indian Xxx - Desi sexy babe on cam teasing & getting full nude rub... Indian Xxx - Desi sexy babe on cam teasing & getting full nude rubbing pussy, showing nips desihd...
Indian Xxx - The Variety of Bizarre and Raw Ultra Bondage - XXX Porn The Variety of Bizarre and Raw Ultra Bondage 87.6 MB || 10min 40s || wmv || 640x480: Download From K...

loading...

Bollywood Actress XXX Nude